लाठी नहीं बंदूकों से डरकर भागे हैं भारत से अंग्रेज! आजाद हिन्द फ़ौज ने कराया था भारत को आजाद

अंग्रेज एक बात अच्छी तरह से जानते थे कि महात्मा गाँधी आजादी के लिए कोई भी हिंसक कदम नहीं उठाने वाले हैं.वहीं गाँधी जी को तो अंग्रेजों से कोई समस्या भी नहीं हो रही थी. 1947 से पहले गांधी जी ने जो आन्दोलन किये थे, उनका कोई बड़ा असर अंग्रेजों पर हुआ भी नहीं था.पढ़ना जारी रखें “लाठी नहीं बंदूकों से डरकर भागे हैं भारत से अंग्रेज! आजाद हिन्द फ़ौज ने कराया था भारत को आजाद”